प्रवासियों के होम क्‍वेरेण्‍टाइन में आशा कार्यकर्ताओं की भूमिका होगी महत्‍वपूर्ण*

*प्रवासियों के होम क्‍वेरेण्‍टाइन में आशा कार्यकर्ताओं की भूमिका होगी महत्‍वपूर्ण*


- प्रवासियों को परिवारों को देंगी उचित सलाह, घर पर लगाएंगी क्‍वेरेण्‍टाइन फ्लायर
- 21 दिन की समयावधि पूरा होने पर ही घर पर लगा फ्लायर हटाएंगी आशा कार्यकर्ता


*संतकबीरनगर, 5 मई 2020 ।*


दूसरे प्रान्‍तों से आने वाले प्रवासियों के होम क्‍वेरेण्‍टाइन की जिम्‍मेदारी आशा कार्यकर्ताओं की होगी। ये आशा कार्यकर्ता ही क्‍वेरेण्‍टाइन किए गए प्रवासियों से परिवार के अन्‍य सदस्‍यों को अलग करेंगी। साथ ही साथ प्रवासी के घर पर क्‍वेरेण्‍टाइन फ्लायर भी लगाएंगी। 21 दिन का क्‍वेरेण्‍टाइन पीरियड पूरा होने के बाद उसे हटाने के साथ ही क्‍वेरेण्‍टाइन पूरा होने की सूचना बीसीपीएम को देंगी।


बाहर से आने वाले प्रवासियों के होम क्‍वेरेण्‍टाइन पर जारी गाइड लाइन्‍स के अनुसार परिवार के किसी  सदस्य अथवा क्वेरेंटाइन किये गए प्रवासी में कोविड-19 के लक्षण प्रारंभ होते ही इसको सूचना आशा कार्यकर्ता को दी जाएगी जिससे वह आगे की कार्यवाही कर सके | क्वेरेंटाइन किये गए घरों में, आशा कार्यकर्ता 60 वर्ष से अधिक आयु के बुज़ुर्ग, गर्भवती महिलाओं, हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज जैसे रोगों से ग्रस्त लोगों  को क्वेरेंटाइन किया गए व्यक्तियों से अलग रहने की सलाह देंगी | आशा कार्यकर्ता घर के बाहर उचित स्थान पर क्वेरेंटाइन संबंधी पोस्टर (फ्लायर)  लगाएंगी जिससे उस घर के क्वेरेंटाइन के अंतर्गत होने का संकेत मिल सके | उनके द्वारा परिवार के सदस्यों का भी उल्लेख किया जाएगा | साथ ही न मिटने वाली स्याही से क्वेरेंटाइन के शुरू होने व ख़त्म होने की तारीख़ अंकित की जाएगी | 21 दिनों की क्वेरेंटाइन का समय पूरा होने पर आशा कार्यकर्ता वस्तुस्थिति की सूचना बीसीपीएम को देंगी एवं घर पर लगे फ्लायर को हटाएंगी |साथ ही परिवार के सदस्यों को निगरानी समिति के सदस्यों का दूरभाष नम्बर उपलब्ध कराया जाएगा |



*प्रवासी के स्‍मार्ट फोन पर होगा आरोग्‍य सेतु एप*


दि प्रवासी के पास स्मार्ट फोन  है तो उस पर आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करवाया जायेगा जिसमें रोज सुबह 11 बजे अपनी सूचना अपडेट करनी होगी | आशा कार्यकर्ता क्वेरेंटाइन किये घरों में तीन दिन में एक बार जरूर जाएँगी तथा परिवार के सदस्यों में खांसी, बुखार  व् सांस लेने में तकलीफ जैसे लक्षणों के प्रकट होने के बारे में  उनसे जानकारी लेंगी तथा क्वेरेंटाइन के सम्बन्ध में उनका फिर से संवेदीकरण किया जायेगा | क्षेत्र भ्रमण के दौरान आशा कार्यकर्ता द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग तथा साफ-सफाई के प्रोटोकोल का पालन किया जाएगा  |



*प्रभारी चिकित्‍साधिकारी को भी देंगी सूचना*


यदि प्रवासी व्यक्ति अथवा उसके परिवार के सदस्य को बुखार अथवा खांसी के लक्षण प्रकट होते हैं तो आशा इसकी सूचना प्रभारी चिकित्सा अधिकारी को देंगी तथा पैरासीटामॉल की गोली देकर तीन दिनों के लिए व्यक्ति को घर पर ही क्वेरेंटाइन में रहने की सलाह देंगी यदि लक्षण बढ़ते हैं तथा सांस लेने में तकलीफ होती है तो आशा /निगरानी समिति के सदस्य इसकी सूचना प्रभारी चिकित्सा अधिकारी को देंगे तथा व्यक्ति को 108 एम्बुलेंस से पास के क्वेरेंटाइन फैसिलिटी में भेजने की व्यवस्था करेंगे |


Popular posts
पेड़ पर उल्लू बैठा है बर्बाद बगीचा करने को........ कबीर की धरती पर
Image
रीलेक्सो टीम हुई विजयी ।
नगर पालिका अध्यक्ष अलका सिंह # गरीबों की मसीहा#कठिन परिस्थितियों में है देश के साथ
Image
सीएम ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ की वीडियो कांफ्रेंसिंग*गोरखपुर
Image
संतकबीरनगर *युवा कल्याण अधिकारी और बाबू पर पीआरडी के जवानों ने लगाया पैसा लेकर ड्यूटी लगाने और  वेतन न  देने का आरोप*
Image