फ्लैग मार्च के बाद भी नही दिख रहा रेड जोन का असर# लाकडाउन का पालन कराने में प्रशासन पूरी तरह असफल # संत कबीरनगर

फ्लैग मार्च के बाद भी नही दिख रहा रेड जोन का असर। संत कबीरनगर


सन्त कबीर नगर - कोरोना वायरस के प्रचंड प्रकोप से दुनिया भले ही भयभीत हो , जान बचाने के लिए भले ही एक से एक उपाय किया जा रहा हो । लेकिन देश के उत्तर प्रदेश का पिछड़े जिले मे स्थान रखने वाला संत कबीर नगर को रेड जोन मे शामिल होने से कोई फर्क नही पड़ता है यहां के लोग बिंदास टहल घूम रहे है । गाड़ियो का आना - जाना लगा हुआ है न कोरोना का डर न प्रशासन का भय ।
बताते चले कि रेड अलर्ट , रेड लाइट , रेड जान यह एक ऐसा कदम है जो बेहद ही संवेदनशील परिस्थिति को उठाया जाता है , सरकारो अथवा स्थानीय प्रशासन द्वारा यह तब प्रयोग मे आता है जब मामला बेहद गंभीर होता है । वैश्विक महामारी के चलते देश को लाकडाउन के साथ - साथ देश को तीन जोन , रेड जोन , ओरेंज जोन एवं ग्रीन जोन मे बांटा गया है ताकि एक तरफ जहां लोगो को कोरोना के संक्रमण से बचाया जा सके उनकी जिंदगी को सुरक्षित किया जा सके वही कोरोना वायरस को देश से मिटा कर मुक्त किया जा सके । इसी क्रम मे जनपद सन्त कबीर नगर पच्चीस कोरोना वायरस से संक्रमित लोगो के साथ रेड जोन मे आता है । रेड जोन के लिहाज से जनपद चुस्त - दुरुस्त रहना चाहिए । लोग जहां घरो मे रहे वही जिला प्रशासन , पुलिस प्रशासन पूरी मुस्तैदी के साथ निगरानी मे रहे । लेकिन यहां ऐसा कुछ देखने मे नही आ रहा है लोगो का जहां बेतरतीब आना - जाना लगा हुआ है वही गाड़ियो की रफ्तार थमने का नाम नही ले रहा है । दो पहिया वाहनो से लेकर चार पहिया वाहन बेधड़क चल रहे है । पैदल वालो की भी कोई कमी नही है ।


Popular posts
रक्षक बने भक्षक # रेंजर खलीलाबाद के संरक्षण में हो रही है हरे पेड़ों की अवैध कटान # वन विभाग
Image
बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ मिशन नारी शक्ति
Image
एक्सपायरी दुकान के लाइसेंस पर एक्सपायरी नमकीन # छापा गीतांजलि स्वीट्स खलीलाबाद संतकबीरनगर#फूड सेफ्टी इंस्पेक्टर राजमणि प्रजापति ।
Image
रीलेक्सो टीम हुई विजयी ।
*कबीर की धरती को विश्व पटल पर सम्मान दिलाने वाली पहली महिला इंस्पेक्टर डॉ. शालिनी सिंह* वीरांगना सम्मान समारोह में सम्मानित हुई डॉ शालिनी सिंह @ रानी लक्ष्मीबाई वीरता पुरस्कार 2020 से CM CITY में हुई सम्मानित @ रामायण सीरियल की "सीता" दीपिका के हाथों हुई सम्मानित @ लेडी सिंघम के नाम से जानी जाती है महिला थाने की SHO डॉ शालिनी सिंह।
Image