सतर्कता और स्वच्छता से दूर रहेगा कोरोना न रहे भयभीत- सीएमओ संतकबीरनगर

*सतर्कता और स्‍वच्‍छता से दूर रहेगा कोरोना, न रहें भयग्रस्‍त – सीएमओ संत कबीर नगर


-    चिकित्‍सकों ने स्‍वच्‍छता तथा सतर्कता के दिए निर्देश, विदेश से आने वालों की दें सूचना
-    सीएमओ ने किया जिला अस्‍पताल में बने हुए कोरोना आइसोलेशन वार्ड का निरीक्षण


*संतकबीरनगर, 17 मार्च 2020*,


नेवल कोरोना वायरस को लेकर भय का वातावरण न बनाएं, न ही मास्‍क के पीछे भागें। कोरोना की निगरानी के लिए 13 टीमों का गठन कर दिया गया है। चारो तरफ सतर्क दृष्टि रखी जा रही है। पूरी तरह से स्‍वच्‍छता बनाए रखें साथ ही विदेश से आने वाले व्‍यक्तियों के बारे में सूचना जरुर दें। कहीं से भी आएं तो अपने हाथों को साबुन से कम से कम 5 बार जरुर धोएं, बेवजह आंख, मुंह और नाक पर हाथों को न ले जाएं। आप पूरी तरह से सुरक्षित रहेंगे।


सीएमओ डॉ हरगोविन्‍द सिंह ने जिल अस्‍पताल में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड के निरीक्षण के उपरान्‍त यह बातें कहीं । उन्‍होने बताया कि कोरोना को लेकर बेवजह दुष्‍प्रचार न करें। विदेश से आने वालों की हर जगह जांच की जा रही है। प्राइवेट अस्पतालों से बात करके उनके मेडिकल और पैरामेडिकल स्टाफ की सूची बनाए। स्थानीय स्तर पर लोगों में हाथ धोने के संदेश को फैलाया जाए । आशा कार्यकर्ता घर घर जाकर यह संदेश आमजन में फैला रही हैं कि कोरोना से बचाव कैसे किया जाए । सर्विलेंस अधिकारी डॉ॰ ए के सिन्‍हा ने बताया कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए जिला अस्पताल में दस बेड आरक्षित कर विशेष वार्ड बना दिया गया है। विदेश से लौटे जिले के नागरिकों की लगातार निगरानी की जा रही है। फिलहाल जिले में एक भी रोगी नही है।


एपीडेमियोंलाजिस्ट डॉ मुबारक अली ने बताया कि कोरोना वायरस के लक्षण-विदेश से लौटने के बाद यदि किसी व्यक्ति को अचानक बुखार, खांसी और सांस लेने में परेशानी है तो उसे तत्काल जांच करानी चाहिए। इस रोग के लिए हेल्पलाइन नंबर-18001805145 (टोल फ्री) है, साथ ही जिले के संक्रामक रोग नियन्‍त्रण कण्‍ट्रोल रुम के मोबाइल नं 9415173404 पर संपर्क करें।


 


*कोरोना से कैसे बचें?*


1.  हाथ को बार-बार साबुन और पानी से धोएं
2. सैनिटाइजर का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करें
3. एक बार इस्तेमाल टिशूज़ को दोबारा इस्तेमाल ना करें
4. खांसते और छींकते वक्त टिशू का इस्तेमाल करें
5. टिशू ना होने पर खांसते वक्त बाजू का इस्तेमाल करें
6. सामने की ओर मुंह करके ना छींके और ना हीं खांसे
7. बिना हाथ धोए अपनी आंख, नाक और मुंह को ना छुएं
8. जो बीमार हो उनके सम्पर्क से बचने की कोशिश करें
9. लोगों से दूरी बनाएं और हाथ मिलाने से बचें
10. बुखार और खांसी होने पर तुरंत डॉक्टर से मिलें


*इन 13 टीमों का हुआ है गठन*
सीएमओ डॉ हरगोविन्‍द सिंह ने बताया कि 13 टीमों का गठन किया गया है। इसमें चिकित्‍सकों की स्‍टेयरिंग कमेटी, काल सेण्‍टर मैनेजमेण्‍ट के लिए 4 लोगों की कमेटी, एचआर मैनेजमेण्‍ट के लिए 3 चिकित्‍सक, दो सर्विलांस टीमों में कुल 8 चिकित्‍सक, ट्रेनिंग और डाक्‍यूमेण्‍टेशन टीम में 5 चिकित्‍सक, इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर मैनेजमेण्‍ट ( आइसोलेशन वार्ड एण्‍ड फेसिलिटीज) में 4 चिकित्‍सक, मैटेरियल मैनेजमेण्‍ट टीम में 4 चिकित्‍सक, मीडिया मैनेजमेण्‍ट टीम में 3 चिकित्‍सक, प्राइवेट हास्पिटल के सर्विलांस के लिए बनी कमेटी में 6 चिकित्‍सक, ट्रांसपोर्टेशन और कोआर्डिनेशन टीम में 5 चिकित्‍सक, अर्न्‍तविभागीय समन्‍वय समिति में 4 चिकित्‍सक के साथ ही मनोवैज्ञानिक सपोर्ट के लिए 3 मनोवै‍ज्ञानिक रखे गए हैं। इस प्रकार 13 टीमों में कुल 51 चिकित्‍सक व स्‍वास्‍थ्‍य कर्मी शामिल हैं।


*मलेशिया से आए युवक की हुई जांच*
जिले में मलेशिया से आए एक युवक की रैपिड रिस्‍पांस टीम के प्रभारी डॉ ए के सिन्‍हा तथा एपीडेमियोलाजिस्‍ट मुबारक अली ने जाकर जांच की। जांच के दौरान उसमें कोरोनो के लक्षण नहीं पाए गए, लेकिन उक्‍त युवक को 28 दिन की निगरानी में रखा जाएगा। टीमें जाकर वहां पर निगाह बनाए रखेंगी।


*चित्र परिचय – कोरोना को लेकर जिला अस्‍पताल में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड का निरीक्षण करते हुए सीएमओ डॉ हरगोविन्‍द सिंह व उपस्थित अन्‍य अधिकारीगण*
 चित्र परिचय
*मलेशिया से आए युवक की जांच करते हुए रैपिड रिस्‍पांस टीम के प्रभारी व अन्‍य*


Popular posts
रीलेक्सो टीम हुई विजयी ।
सम्राट ललितादित्य
Image
नकली बंटी बबली बनाने का जखीरा हुआ बरामद
Image
गरीबों का खाना बांटने ( समाजसेवा) के नाम पर ब्लाक प्रमुख मंटू सिंह कर रहा था शराब की अवैध तस्करी#जनपद देवरिया
Image
*कबीर की धरती को विश्व पटल पर सम्मान दिलाने वाली पहली महिला इंस्पेक्टर डॉ. शालिनी सिंह* वीरांगना सम्मान समारोह में सम्मानित हुई डॉ शालिनी सिंह @ रानी लक्ष्मीबाई वीरता पुरस्कार 2020 से CM CITY में हुई सम्मानित @ रामायण सीरियल की "सीता" दीपिका के हाथों हुई सम्मानित @ लेडी सिंघम के नाम से जानी जाती है महिला थाने की SHO डॉ शालिनी सिंह।
Image