अपने पूर्वजों को याद रखने के लिए वृक्षारोपण करें। माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी महाराज

मुख्यमंत्री सम्वेदना व्यक्त करने आये देवरिया के बौहोर  धनौती गांव में


देवरिया। प्रदेश के ओजस्वी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी महाराज  आज जनपद के विकास खण्ड भलुअनी अन्तर्गत ग्राम बहोर धनौती में पं रामानुज त्रिपाठी की धर्मपत्नी  श्रीमती मरजादी देवी के गत दिवस देहवासान हो जाने के कारण शोकाकुल परिवार से मिले तथा पंचतत्व में विलीन आत्मा स्व श्रीमती मरजादी देवी के चित्र पर श्रद्धासुमन अर्पित किया। उन्होने शोक संवेदना व्यक्त की तथा पं रामानुज त्रिपाठी सहित सभी परिवारीजनो को ढाढस बधाया।  दिवन्गत आत्मा के शांति के लिये कामना की। इस दौरान उन्होने वृक्षारोपण भी किया। प्रदेश की राजनीति पहले ऐसे मुख्यमंत्री हैं जिन्होंने समाज को देखते हुए सभी को सांत्वना देने के लिए लखनऊ से चलकर देवरिया तक पहुंचे। पूर्वांचल में सभी शुभचिंतकों को समय-समय पर जब भी कोई दुर्घटना एवं आपदा होती है माननीय मुख्यमंत्री महोदय उस परिवार को हमेशा फोन करके या स्वयं अपने प्रतिनिधि को भेजकर या खुद पहुंचकर उस परिवार को सांत्वना देते रहते हैं। योगी आदित्यनाथ महाराज यही विशेषता रही है समाज को जोड़ने के लिए एवं सभी को लेकर एक साथ चलने के लिए और समाज को समय-समय पर ज्ञानवर्धक संबोधन देकर समाज को एक उन्नत दिशा की ओर चलने का सीख हमेशा देते रहे। उसी कड़ी में आज देवरिया के शोकाकुल परिवार को सांत्वना देने के लिए माननीय मुख्यमंत्री महोदय देवरिया की धरती पर पधारे थे। शासन प्रशासन की कड़ी व्यवस्था में महाराज का आगमन पावन धरती पर हुआ था समय की व्यस्तता की वजह से माननीय मुख्यमंत्री जी अपने व्यस्ततम समय निकालकर 20 मिनट के लिए इस शोकाकुल परिवार के लिए राजधानी से चलकर देवरिया आए हुए थे। और समाज को एक अच्छी सीख देकर गए। इन अवसरों पर वृक्षारोपण किया जाए जिससे समाज में एक शुद्ध वातावरण बना रहेगा। और अपने पूर्वजों हरे भरे पेड़ों के रूप में देखकर मन प्रफुल्लित रहेगा और समाज की एक नई दिशा तय होती रहेगी।


Popular posts
पेड़ पर उल्लू बैठा है बर्बाद बगीचा करने को........ कबीर की धरती पर
Image
रीलेक्सो टीम हुई विजयी ।
नगर पालिका अध्यक्ष अलका सिंह # गरीबों की मसीहा#कठिन परिस्थितियों में है देश के साथ
Image
सीएम ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ की वीडियो कांफ्रेंसिंग*गोरखपुर
Image
संतकबीरनगर *युवा कल्याण अधिकारी और बाबू पर पीआरडी के जवानों ने लगाया पैसा लेकर ड्यूटी लगाने और  वेतन न  देने का आरोप*
Image