उत्तर प्रदेश प्राथमिक विद्यालय की स्थिति नहीं दिए जाते हैं जूते बच्चों को पहनने के लिए

देश के बच्चों का भविष्य प्राइमरी स्कूलों में सरकार द्वारा ड्रेस एवं जूते दिए जाते हैं। लेकिन आप इस फोटो में देख सकते हैं बिना जूते और चप्पल के नगर पालिका अध्यक्ष नगर स्वेटर का वितरण कर रही है। इनकी नजर यदि एक बार भी बच्चों के पैरों की तरफ पड़ जाती तो शायद उनको यह भी ख्याल आता कि सरकार द्वारा हर विद्यालय में जूते उपलब्ध कराए जाते हैं। लेकिन अध्यक्ष महोदय द्वारा जिन बच्चों को स्वेटर दिया जा रहा है उन बच्चों के पैरों में कुछ भी नहीं है पहनने के लिए। यह हमारे देश के प्राइमरी स्कूलों की स्थिति को अवगत कराता है एवं योगी सरकार की मनसा को भी बताता है कि प्राइमरी पाठशाला में बच्चों के लिए क्या-क्या सुविधाएं हैं। स्वेटर बांटकर अध्यक्ष महोदय अपना नाम कमाना चाहती लेकिन उनको यह भी देखना चाहिए की जिन बच्चों को मैं स्वेटर दे रही हूं वह कड़ी ठंडक में बिना चप्पल एवं जूते के कैसे पढ़ने आएंगे। यही है उत्तर प्रदेश प्राइमरी पाठशाला की स्थिति ना जूते ना चप्पल ना किताबें ना पढ़ाई ।


Popular posts
रीलेक्सो टीम हुई विजयी ।
कोरोना को लेकर घबराये नहीं, सावधान रहने की जरूरत#डॉक्टर ए के सिन्‍हा, जिला सर्विलांस अधिकारी*
Image
गोरखपुर के लोग ले रहे हैं तुर्की की प्याज का स्वाद
Image
मुख्यमंत्री का गृह जनपद गोरखपुर @ बाल विकास पुष्टाहार के अधिकारी (CDPO )ही बदनाम कर रहे विभाग को एवं मुख्यमंत्री की छवि को
Image
*कबीर की धरती को विश्व पटल पर सम्मान दिलाने वाली पहली महिला इंस्पेक्टर डॉ. शालिनी सिंह* वीरांगना सम्मान समारोह में सम्मानित हुई डॉ शालिनी सिंह @ रानी लक्ष्मीबाई वीरता पुरस्कार 2020 से CM CITY में हुई सम्मानित @ रामायण सीरियल की "सीता" दीपिका के हाथों हुई सम्मानित @ लेडी सिंघम के नाम से जानी जाती है महिला थाने की SHO डॉ शालिनी सिंह।
Image