किस मजबूरी मे फ्री में बांटता है आबकारी विभाग शराब ? संतकबीरनगर

किस मजबूरी मे फ्री में बांटता है आबकारी विभाग शराब ?         पी.के. सिंह (राष्ट्रपति पुरस्कृत-  विशेष संवाददाता) संत कबीरनगर


सन्त कबीर नगर - ऐसा कोई पर्व नही जिसकी खुशी मे आबकारी विभाग शराब बांटने का काम नही करता है अभी हालिया मे बीते होली के पर्व पर बड़े पैमाने पर आबकारी विभाग ने फ्री मे शराब बांटने का काम किया था । अब जब देश दुनिया सहित देश जन जीवन बचाने के एवज मे वैश्विक महामारी कोविड 19 के चलते लाकडाउन जैसे निर्णय लेकर अर्थ व्यवस्था सहित जन जीवन अस्त व्यस्त का परिणाम भुगत रहा है । तब आबकारी विभाग उन लोगो फ्री मे शराब उपलब्ध करवा रहा है । जो सरकार की प्रशासन की समाज की कमियो को उजागर कर आईना दिखाने का काम करता है ।
उल्लेखनीय है कि देश का चौथा स्तम्भ कहलाने वाला पत्रकारिता अब आईना दिखाने का काम कम कमी छिपाने का काम अधिक कर रहा है । आबकारी विभाग की कमियो को छुपाने का काम सक्षम अधिकारियो की अपेक्षा पत्रकार कर रहा है इसके एवज मे वह शराब की बोतल लेता है जिसे पीने से पीने वाला अपनी सुध - बुध खोकर असामाजिक कृत्य करने लगता है कही नशे मे धुत्त किसी गड्डे मे गिरा मिलता है तो कही सड़क पर पड़ा मिलता है । कही झगड़ते मिलता है तो कही मारपीट करते मिलता है गांव गढ़ी टोला महल्ला समाज की क्या कहे अपने परिवार का भी पानी नही छोड़ता है मां - बाप , बीबी - बच्चो को मारपीट कर बुरा हाल जो करता है सो अलग । सूत्रो की माने तो आबकारी विभाग केवल पर्वों पर ही पत्रकारो को शराब उपलब्ध नही करवाया जाता है बल्कि शराब का सेवन करने वाले पत्रकारो को नियमित करवाया जाता है । इससे आबकारी विभाग को तो नही पर सम्बंधित अधिकारियो को अधिक लाभ मिलता है जिसका उदाहरण यदा - कदा निष्पक्ष पत्रकारिता के द्वारा देखने मे आता है । जब उचित मूल्य को छोड़कर अधिक दाम लिये जाने की अथवा शराब माफियाओ द्वारा अवैध शराब के कारोबार की खबर कोई इमानदार पत्रकार लिखता है अथवा चलाता है ।


Popular posts
पेड़ पर उल्लू बैठा है बर्बाद बगीचा करने को........ कबीर की धरती पर
Image
रीलेक्सो टीम हुई विजयी ।
नगर पालिका अध्यक्ष अलका सिंह # गरीबों की मसीहा#कठिन परिस्थितियों में है देश के साथ
Image
सीएम ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ की वीडियो कांफ्रेंसिंग*गोरखपुर
Image
संतकबीरनगर *युवा कल्याण अधिकारी और बाबू पर पीआरडी के जवानों ने लगाया पैसा लेकर ड्यूटी लगाने और  वेतन न  देने का आरोप*
Image